पहली बार सामने आईं हनीप्रीत, ‘पापा’ राम रहीम से रिश्तों का खोला राज!
राम रहीम को सजा मिलने के बाद हनीप्रीत पहली बार टीवी पर सामने आई है. डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सजा के बाद से फरार चल रही उनकी करीबी और बेटी हनीप्रीत आमने आई गई हैं। सात राज्यों की पुलिस टीमों को चकमा दे रहीं हनीप्रीत मंगलवार को कुछ न्यूज चैनल्स पर नजर आईं। उन्होंने खुद को बेकसूर बताया है। हनीप्रीत ने अपने पिता राम रहीम को पूरी तरह से निर्दोष बताया और साथ ही उनके साथ अपनी करीबियों पर भी काफी कुछ बातें कहीं।
हनीप्रीत कभी भी नेपाल नहीं गई
हनीप्रीत के मुताबिक अब वह पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट का रुख करेंगी और कानूनी सलाह लेंगी। गौरतलब है कि हनीप्रीत पर राजद्रोह का केस दर्ज हुआ है। उन पर पंचकूला में हिंसा भड़काने के आरोप में सेक्टर-5 थाने में केस दर्ज है। हनीप्रीत पर आरोप है कि उसने साध्वियों से रेप के दोषी राम रहीम को पुलिस कस्टडी से छुड़ाने की साजिश रची थी। गायब रहने के सवाल पर हनीप्रीत ने कहा कि उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा था। उन्होंने बताया कि वह हरियाणा से किसी तरह दिल्ली गई। अब वह हरियाणा-पंजाब कोर्ट में जाऊंगी। सरेंडर के सवाल पर हनीप्रीत ने कहा कि वह कानूनी सलाह लेंगी। हनीप्रीत की मानें तो वह कभी भी नेपाल नहीं गई थीं और देश में ही रह रही थीं। उन्होंने बताया कि वह इतनी डरी हुई थी कि अपनी मानसिक स्थिति बयां नहीं कर सकती हूं। उन्हें तो किसी तरह की प्रक्रिया भी नहीं पता थी।
राम रहीम से रिश्तों पर बोलीं हनीप्रीत
हनीप्रीत ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि मैं अपने पापा के साथ हेलिकॉप्टर में कैसे गई, तो मैं आपको बता दूं कि यह कोर्ट की इजाजत के बाद हुआ है। अपने ऊपर दंगा भड़काने के आरोपों पर भी बोलते हुए हनीप्रीत ने कहा, ‘आप कोई एक क्लिप ऐसी दिखा दीजिए जिसमें मैं ऐसा कुछ कह रही हूं या कर रही हूं। कुछ लोगों को साजिश के तहत दंगा भड़काने के लिए भेजा गया था।’ हनीप्रीत ने कहा कि उनका और राम रहीम का रिश्ता बेहद पवित्र रिश्ता है। यह उतना ही पाक है, जितना बाप-बेटी का रिश्ता होता है। क्या बाप बेटी के सिर पर हाथ नहीं रख सकता? क्या बेटी अपने पिता से लाड़ नहीं कर सकती? इस दौरान जब उनके पूर्व पति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं विश्वास गुप्ता के बारे में बात भी नहीं करना चाहती।’
फिल्म के लिए काम कर रही होती हनीप्रीत
साध्वियों से रेप के मामले में अगर राम रहीम जेल में नहीं होता तो इस वक्त वह, हनीप्रीत के साथ नेताजी सुभाषचंद्र बोस पर फिल्म बना रहा होता. पिछले महीने सीबीआई कोर्ट ने साध्वियों से रेप के मामले में राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाई थी. उस पर कई और आरोप हैं. सजा सुनाए जाने के बाद हिंसा फैल गई थी. हनीप्रीत भी तभी से गायब थी. एजेंसियां उसकी तलाश कर रही हैं.
नेताजी पर फिल्म बनाने की थी प्लानिंग
राम रहीम, हनीप्रीत के साथ सुभाषचंद्र बोस पर फिल्म बनाने की प्लानिंग कर रहा था. इससे पहले दोनों ने ‘एमएसजी’ के जरिए बॉलीवुड में एंट्री की थी. जानकारी के मुताबिक़ एक महीने बाद नवंबर से वह नेताजी सुभाषचंद्र बोस पर काम शुरू करने वाला था. पहले की तरह इसके लिए भी वह और हनीप्रीत के साथ अभिनय से लेकर निर्देशन तक में हाथ आजमाता. उसकी योजना साल के अंत तक फिल्म को परदे पर ले जाने की थी. हालांकि, जेल जाने के बाद उसका ये प्रोजेक्ट धरा रह गया. राम रहीम अपनी आगामी फिल्म में खुद को नेताजी के किरदार में प्रस्तुत करने वाला था. इसके लिए उसकी नवंबर में कोलकाता जाकर काम शुरू करने की योजना थी. इसी दौरान उसके एजेंडा में नेताजी के परिजनों से मुलाक़ात के साथ ही नेताजी की लाइफस्टाइल, संघर्ष और व्यक्तित्व को भी समझना था.
फिल्म के लिए लोगों से बातचीत 
फिल्म के लिए कोलकाता में उसकी मदद कर रहे एक नजदीकी सूत्र ने बताया था, “वह (राम रहीम) नेताजी से बहुत प्रभावित था. फिल्म के जरिए वह नेताजी से जुड़े प्रसंग और मिस्ट्री को अपने तरीके से लोगों के सामने लाना चाहता था. वह फिल्म के लिए टॉलीवुड के लोगों से अंतिम दौर की बातचीत कर रहा था. इसमें फिल्म की स्टारकास्ट भी शामिल थी.” सूत्रों के मुताबिक़ होटल बुकिंग, स्टार कास्ट और लोकेशन जैसे बिंदुओं को सितंबर के अंत तक फाइनल किया जाना था.
हनीप्रीत के लिए गाना लिखना बाएं हाथ का खेल
हनीप्रीत, राम रहीम के साथ लगभग सभी फिल्मों का हिस्सा थी. उसकी मानें तो वो राम रहीम के आशीर्वाद से पल भर में हर काम कर लेती थी. स्क्रिप्ट लेखन से अभिनत तक उसके बाएं हाथ का खेल था. जिस काम को करने के लिए फ़िल्मी गीतकार घंटों-महीनों का वक्त लेते थे, हनीप्रीत चुटकियों में कर देती थी. एक वीडियो में उसने दावा किया था, वो महज पांच मिनट में फिल्म के लिए गाना लिख देती है.

Advertisements